Photo Gallery

Photo Gallery: साइंस कालेज दुर्ग में भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा छात्रहित में दो अकादमिक कार्यक्रम आयोजित

 

साइंस कालेज दुर्ग में भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा छात्रहित में दो अकादमिक कार्यक्रम आयोजित


Venue : Govt. V.Y.T. PG Autonomous College, Durg
Date : 25/04/2018
 

Story Details

शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग में भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा छात्रों के सर्वोंगीण विकास हेतु दो अकादमिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। भौतिक शास्त्र विभाग की विभागाध्यक्ष डाॅ. पूर्णा बोस के अनुसार विभाग में नेट एवं सेट परीक्षा की तैयारी हेतु एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में तामस्कर महाविद्यालय के साथ-साथ कल्याण महाविद्यालय, भिलाई के विद्यार्थी भी उपस्थित थे। कार्यशाला के संयोजक डाॅ. अभिषेक मिश्रा ने बताया कि अपने संबोधन में प्राचार्य डाॅ. एस.के. राजपूत ने नेट/सेट परीक्षा की महत्ता एवं उसके लिए आवश्यक तैयारियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि प्रत्येक स्नातकोत्तर विद्यार्थी को नेट/सेट परीक्षा में सफल होने हेतु महाविद्यालय ग्रंथालय में और अधिक पुस्तकंे एवं पाठ्यक्रम सामग्री उपलब्ध करायी जायेगी। भौतिक शास्त्र विभाग के भूतपूर्व छात्र एवं सेट परीक्षा उत्तीर्ण राहुल श्रीवास तथा मोहित वर्मा ने बड़ी संख्या में उपस्थित विद्यार्थियों को नेट/सेट परीक्षा के पाठ्यक्रम की तैयारी करने तथा निर्धारित समय में प्रश्नों को हल करने की विधियों की विस्तार से जानकारी दी। महाविद्यालय आईक्यूएसी के संयोजक डाॅ. जगजीत कौर सलूजा ने नेट/सेट परीक्षा संबंधी मार्गदर्शन को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षाओं के पाठ्यक्रम के अनुसार संशोधित करने का पूर्ण प्रयास भौतिक विभाग द्वारा किया जा रहा है। इस अवसर पर श्रीमती सीतेश्वरी चन्द्राकर, डाॅ. योगिता परगनिहा, कु. दीपिका तथा भौतिकी विभाग के समस्त स्नातकोत्तर छात्र-छात्राऐं उपस्थित थे। 
एक अन्य आमंत्रित व्याख्यान में सेंटर आॅफ इंजीनियरिंग आॅफ टेक्नालाॅजी भुवनेश्वर, उड़ीसा के विजिटिंग प्रोफेसर डाॅ. गौरी शंकर राॅय ने नैनो टेक्नालाॅजी 21वीं सदी की क्रांति विषय पर सारगर्भित जानकारी दी। नैनो टेक्नालाॅजी के विभिन्न क्षेत्रों में उपयोग पर विस्तार से चर्चा करते हुए डाॅ. गौरी शंकर राॅय ने नैनो पदार्थ बनाने की विधियां एवं उसकी महत्ता पर भी प्रकाश डाला। स्नातकोत्तर विद्यार्थियों ने नैनो टेक्नालाॅजी के संबंध में अनेक प्रश्न पूछकर अपनी जिज्ञासा का समाधान किया। इस अवसर पर भौतिक विभाग की विभागाध्यक्ष डाॅ. पूर्णा बोस, डाॅ. अनीता शुक्ला, डाॅ. सीतेश्वरी चन्द्राकर, डाॅ. अभिषेक मिश्रा तथा बड़ी संख्या में भौतिक शास्त्र के छात्र-छात्रायें उपस्थित थे। 

साइंस कालेज दुर्ग में भौतिक शास्त्र विभाग द्वारा छात्रहित में दो अकादमिक कार्यक्रम आयोजित Photos