Photo Gallery

Photo Gallery: कुलपति डाॅ. पल्टा ने किया मौखिक प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता का मूल्यांकन

 

कुलपति डाॅ. पल्टा ने किया मौखिक प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता का मूल्यांकन


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 27/02/2020
 

Story Details

हेमचंद यादव विष्वविद्यालय, दुर्ग द्वारा राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के अवसर पर आयोजित एवं सी-काॅस्ट रायपुर द्वारा प्रायोजित शोध छात्र-छात्राओं, स्नातकोत्तर विद्यार्थियों की मौखिक प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता के निर्णायक सहायक कुलसचिव डाॅ. भूपेन्द्र कुलदीप एवं वित्त अधिकारी श्रीमती ज्योत्सना शर्मा एवं सहायक प्राध्यापकों हेतु मौखिक प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता के दौरान विष्वविद्यालय की कुलपति डाॅ. अरूणा पल्टा एवं कुलसचिव डाॅ. सी.एल. देवांगन निर्णायक के रूप में पूरी प्रतियोगिता के दौरान उपस्थित रहे। प्रतिभागियों को सलाह देते हुए डाॅ. अरूणा पल्टा ने कहा कि किसी भी प्रतिभागी को मौखिक प्रस्तुतिकरण के दौरान विषय-वस्तु, समय की पाबंदी तथा प्रस्तुतिकरण दक्षता पर विषेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि प्रत्येक प्रस्तुति के दौरान सैकड़ों आंखें हमारी ओर लगी होती है। प्रतिभागियों द्वारा की गयी प्रस्तुतिकरण की गुणवत्ता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए डाॅ. पल्टा एवं विष्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डाॅ. सी.एल. देवांगन ने कहा कि विष्वविद्यालय आगामी सत्र मंे भी विद्यार्थियों, शोध छात्र-छात्राओं एवं षिक्षकों हेतु अनेक गतिविधियां संपादित की जायेगी। 
महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह ने अपने संबोधन में हेमचंद विष्वविद्यालय द्वारा आयोजित प्रतियोगिताओं को उच्च स्तरीय करार देते हुए कहा कि हर प्रतिभागी की कड़ी मेहनत के कारण प्रतियोगिता के निर्णायकांे को कड़ी मेहनत करनी पड़ी। डाॅ. सिंह ने विद्यार्थियों के प्रस्तुतिकरण के दौरान हुई प्रस्तुतियों की विषेष रूप से सराहना की। शोध छात्र-छात्राओं हेतु आयोजित प्रस्तुतिकरण के आरंभ में साईंस कालेज, दुर्ग के डाॅ. अजय सिंह ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की महत्ता पर प्रकाष डाला। षिक्षकों हेतु आयोजित प्रस्तुतिकरण का संचालन करते हुए डाॅ. प्रषांत श्रीवास्तव ने नियमों की जानकारी देते हुए प्रतिभागियों से विषय की महत्ता एवं समय की पाबंदी का पालन करने का आग्रह किया। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन डाॅ. अनिल श्रीवास्तव ने किया। मौखिक प्रस्तुतिकरण के दौरान आयोजन समिति के डाॅ. अनिल कुमार, डाॅ. अजय सिंह, डाॅ. प्रषांत श्रीवास्तव, डाॅ. अभिषेक मिश्रा, डाॅ. मौसमी डे, डाॅ. निखिल मिश्रा, डाॅ. सोमेन्द्र, श्री दिनेष, डाॅ. संजू सिन्हा का उल्लेखनीय योगदान रहा। 
कार्यक्रम के अंत में हेमचंद यादव की कुलपति डाॅ. अरूणा पल्टा ने षिक्षकों के मौखिक प्रस्तुतिकरण की विजेता प्रतिभागियों की घोषणा की। प्रथम स्थान स्वामी स्वरूपानंद महाविद्यालय, हुडको भिलाई की श्रीमती श्वेता दवे, द्वितीय स्थान साईंस कालेज, दुर्ग की श्रीमती मौसमी डे तथा तृतीय स्थान साईंस कालेज, दुर्ग के 2 प्रतिभागियों डाॅ. विजयलक्ष्मी नायडू एवं डाॅ. एकता सिंह को प्राप्त हुआ। शोध विद्यार्थियों में साईंस कालेज, दुर्ग के एस.श्रीविद्या प्रथम, तारिणी साहू द्वितीय तथा अनामिका शर्मा तृतीय स्थान पर रही। स्नातकोत्तर विद्यार्थियों में कु. समता सलेचा एम.एससी भौतिक शास्त्र, प्रथम तनुजा कल्याण महाविद्यालय भिलाई, द्वितीय तथा अनंदिता विष्वास, साईंस कालेज, दुर्ग ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इन सभी विजेता प्रतिभागियों को 28 फरवरी को दोपहर 2.00 बजे दुर्ग विष्वविद्यालय परिसर में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में पुरस्कृत किया जायेगा। पुरस्कार वितरण समारोह के मुख्य अतिथि सीकाॅस्ट रायपुर के डायरेक्टर जनरल श्री मुदित कुमार सिंह होगें। 

कुलपति डाॅ. पल्टा ने किया मौखिक प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता का मूल्यांकन Photos