Photo Gallery

Photo Gallery: विज्ञान महाविद्यालय दुर्ग के छात्रों ने दिया मषरूम उत्पादन का प्रषिक्षण

 

विज्ञान महाविद्यालय दुर्ग के छात्रों ने दिया मषरूम उत्पादन का प्रषिक्षण


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 08/02/2020
 

Story Details

शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग वनस्पति विज्ञान विभाग के प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों ने शासकीय उच्चतर माध्यामिक विद्यालय खम्हरिया जुनवानी के छात्रों को स्वयं के रोजगार स्थापित करने मषरूम उत्पादन का प्रषिक्षण दिया। मषरूम उत्पादन आय का एक अच्छा साधन के साथ-साथ खनिज एवं प्रोटीन तत्वों से भरपूर होता है जो भोजन के रूप में स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है इनके कुछ प्रजातियों हानिकारक बैक्टीरिया तथा कैंसर जैसी बिमारी के रोकथाम के लिए उपयोग किया जा रहा है। पैरा मषरूम, बटन मषरूम का उत्पादन छोटे कमरे में कम समय व कम लागत से आसानी से किया जा सकता है स्पान (बीज) लगने के 15 दिनों में पहली फसल प्राप्त हो जाती है। छत्तीसगढ़ की तुलना में अन्य राज्यों बिहार, उत्तरप्रदेष, उत्तराखंड में बड़े पैमाने पर मषरूम उत्पादन किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ में भी इसकी अच्छी संभावनायें है। स्वयं का रोजगार स्थापित करने कृषि विज्ञान केन्द्रों द्वारा समय-समय पर प्रषिक्षण षिविर आयोजित किया जाता है। यहां प्रषिक्षण प्राप्त कर बड़े पैमाने पर मषरूम उत्पादन किया जा सकता है यह जानकारी डाॅ. जी.एस.ठाकुर एवं डाॅ. श्रीराम कुंजाम ने दी। 
महाविद्यालय के छात्रों ने धान पैरा शोधन से लेकर बैग बनाना, बीज रोपना आदि सम्पूर्ण प्रक्रिया को प्रेक्टीकली करके सिखाया, साथ ही सजावटी पौधे व फलदार वृक्षों में कलम लगाना, रोपण करना, गुटी बांधकर नये पौधें बनाना भी सिखाया। यह कार्यक्रम महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह एवं वनस्पति विज्ञान के प्राध्यापकों के मार्गदर्षन में विस्तार गतिविधि के अंतर्गत आयोजित किया गया, जिसमें शासकीय उच्चतर माध्यामिक विद्यालय, खम्हरिया के प्राचार्य एवं षिक्षकों का विषेष सहयोग प्राप्त हुआ। 

विज्ञान महाविद्यालय दुर्ग के छात्रों ने दिया मषरूम उत्पादन का प्रषिक्षण Photos