Photo Gallery

Photo Gallery: आत्म हत्या एवं इसका बचाव पर कार्यषाला

 

आत्म हत्या एवं इसका बचाव पर कार्यषाला


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 01/02/2020
 

Story Details

शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग के मनोविज्ञान विभाग एवं राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम जिला अस्पताल दुर्ग के संयुक्त तत्वावधान में आत्म हत्या एवं इसके बचाव पर कार्यषाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह ने अपनी शुभकामनायें दी एवं कहा कि इस महत्वपूर्ण विषय को छात्र-छात्राओं के समक्ष रखना आज की जरूरत है। महाविद्यालय के प्र्रभारी डाॅ. एम.ए. सिद्दीकी ने विषय प्रासंगिकता पर बल देते हुए कहा अपने संबोधन में कहा कि इस प्रकार के विषय पर बातचीत करना एवं समझ विकसित करना आज की जरूरत है। मनोवैज्ञानिक परामर्ष और सहायता हमारे दुखों और चिंता को कम कर सकता है। 
कार्यषाला की मुख्य वक्ता डाॅ. शमा हमदानी ने आत्म हत्या के मुख्य बिंदुओं की चर्चा करते हएु इसके बचाव पर प्रकाष डाला। उन्होंने आत्म हत्या के विभिन्न स्वरूप बताये और कहा कि ज्यादातर लोग आत्महत्या की कोषिष करते है पर कुछ लोग इसमे सफल हो जाते है। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य सर्वे का हवाला देते हुए कहा कि आत्म हत्या न सिर्फ देष के लिए अपितु छत्तीसगढ़ के लिए भी एक चुनौती है। छत्तीसगढ़ में हर दिन 25 लोग आत्महत्या करते है। बचाव के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से प्रकाष डाला और इसके लक्षणों को उजागर किया। उन्होंने कहा कि इस विषय पर बातचीत करना बहुत जरूरी है। अपनी मन की बात दूसरों को बताना चाहिए तथा जरूरत पड़ने पर मनोवैज्ञानिक परामर्ष लेना चाहिए। 
उद्घाटन सत्र में कार्यषाला के उद्देष्य एवं औचित्य पर प्रकाष डालते हुए कार्यषाला के संयोजक, मनोविज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष डाॅ. रचिता श्रीवास्तव ने कहा कि कम समय में सफलता पाने की चाह बढ़ रही है, जिसकी वजह से मानसिक दवाब बड़ रहा है। डाॅ. सुचित्रा शर्मा ने संबोधित करते हुए कहा कि जीवन में खुष रहना चाहिए। मन में सकारात्मक विचार आते रहना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन विभागाध्यक्ष डाॅ. रचिता श्रीवास्तव ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन मनोविज्ञान विभाग की प्राध्यापक डाॅ. प्रतिभा शर्मा ने किया। उन्होंने कहा कि आज का वर्कषाप और दी गयी जानकारी। छात्रों के लिए बहुमूल्य है। महाविद्यालय की एन.सी.सी. प्रभारी डाॅ. सपना शर्मा कार्यक्रम में उपस्थित होकर छात्र-छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। कार्यषाला में महाविद्यालय की छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। प्रष्न उत्तर के माध्यम से अपनी जिज्ञासाओं का समाधान किया। कार्यकम में महाविद्यालय के अन्य कर्मचारीगण भी उपस्थित थे। 

आत्म हत्या एवं इसका बचाव पर कार्यषाला Photos