Photo Gallery

Photo Gallery: जन उन्नयन संस्था द्वारा आर्थिक सहायता एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग हेतु चयन परीक्षा आयोजित

 

जन उन्नयन संस्था द्वारा आर्थिक सहायता एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग हेतु चयन परीक्षा आयोजित


Venue : Govt. Science College Durg
Date : 16/10/2017
 

Story Details

साइंस कालेज दुर्ग में प्राध्यापकों की संस्था जन उन्नयन द्वारा सत्र 2017-18 हेतु आर्थिक रूप से अपेक्षाकृत कमजोर एवं प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को पुरस्कार प्रदान करने तथा विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में चयन में सहायता हेतु विशेषज्ञों द्वारा कोचिंग कक्षाओं में प्रशिक्षण दिलाने के उद्देश्य से आज शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग में चयन परीक्षा आयोजित की गयी। महाविद्यालय जन उन्नयन संस्था के अध्यक्ष डॉ. ए.के. खान से प्राप्त जानकारी के अनुसार महाविद्यालय के लगभग 50 प्राध्यापक प्रतिमाह 500 रू. की राशि बैंक के माध्यम से जन उन्नयन के खाते में जमा करते हैं। इस राशि का उपयोग आर्थिक रूप से कमजोर तथा प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के साथ-साथ समृद्ध वर्ग के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को आर्थिक सहायता एवं विशेष कोचिंग प्रदान करने हेतु किया जाता है। डॉ. खान ने बताया कि आज आयोजित चयन परीक्षा के आधार पर 03 चयनित छात्र-छात्राओं को गुणानुक्रम के अनुसार पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) के विद्यार्थियों के लिए पुरस्कार की राशि क्रमशः 11000 रू. प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले को तथा 7000 एवं 5000 रूपये क्रमशः द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थी हेतु होगी। वहीं गरीबी रेखा से उपर (एपीएल) श्रेणी के विद्यार्थियों के लिए पुरस्कार राशि क्रमश : 6000, 5000 तथा 4500 होगी। जन उन्नयन संस्था के नियमानुसार उक्त पुरस्कार राशि प्राप्ति हेतु विद्यार्थियों की कक्षाओं में 80 प्रतिशत से अधिक नियमित उपस्थिति अनिवार्य है। 
डॉ. खान ने बताया कि विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं - रेलवे , बैकिंग, कर्मचारी चयन आयोग, व्यापम, लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं संबंधी निःशुल्क कोचिंग हेतु बीपीएल परिवारों के 30 छात्र-छात्राओं का चयन किया जायेगा। गरीबी रेखा से उपर के परिवारों के 60 विद्यार्थियों को न्यूनतम शुल्क पर कोचिंग की सुविधा प्रदान की जायेगी। विद्यार्थियों की सुविधा हेतु उक्त कोचिंग कक्षायें महाविद्यालय परिसर में ही नियमित कक्षाओं के पश्चात् आयोजित होगी। कोचिंग तथा आर्थिक सहायता हेतु गुणानुक्रम से छात्र-छात्राओं का चयन किया जायेगा। आज आयोजित लिखित चयन परीक्षा में स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर के कुल 564 विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। सामान्य ज्ञान, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय गतिविधियां, तर्क शक्ति, गणित, सामान्य विज्ञान, इतिहास, भूगोल, राजनीति, खेल, साहित्य आदि पर आधारित 100 उच्च स्तरीय प्रश्नों के उत्तर चयन परीक्षा के प्रतिभागियों से पूछे गये।
उल्लेखनीय है कि विगत 07 वर्षों से महाविद्यालय के प्राध्यापकों द्वारा गठित एवं पंजीकृत स्वयंसेवी संस्था श्जन उन्नयनश् विद्यार्थियों के सर्वोंगीण विकास हेतु प्रयासरत है। उक्त संस्था से वित्तीय सहायता प्राप्त अनेक विद्यार्थी स्नातक एवं स्नातकोत्तर उपाधि प्राप्त करने के पश्चात् उच्च पदों पर आसीन है, तथा स्वयं अपने संसाधनों से अपने आसपास के विद्यार्थियों एवं ग्रामीण परिवेश से आने वाले विद्याथि्र्ायों की सहायता कर रहे हैं। इस प्रकार के स्वस्फूर्त होकर अन्य विद्यार्थियों को सहायता करने वाले विद्यार्थियों को जनउन्नयन संस्था प्रतिवर्ष सम्मानित कर उन्हें प्रोत्साहित करती है। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. एस.के. राजपूत के अनुसार जनउन्नयन संस्था के सदस्य प्राध्यापकों द्वारा किया जाने वाला कार्य अन्य महाविद्यालयों के लिए भी अनुकरणीय है। जन उन्नयन के अध्यक्ष डॉ. ए.के. खान के अनुसार आने वाले समय में भी प्रतिभाशाली एवं आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों हेतु संस्था द्वारा अनेक रचनात्मक कदम उठाये जायेगें।