Photo Gallery

Photo Gallery: विज्ञान महाविद्यालय दुर्ग के छात्रों ने किया शैक्षणिक भ्रमण

 

विज्ञान महाविद्यालय दुर्ग के छात्रों ने किया शैक्षणिक भ्रमण


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 17/01/2020
 

Story Details

वानस्पतिक पेड़ पौधों का उनके प्राकृतिक आवास में देखना पहचानना, समझना बहुत आवष्यक है, जिससे छात्रों को आवास की विभिन्नता से पौधों की विभिन्न प्रजातियों को जानने का अवसर प्राप्त होता है, इसी उद्देष्य के लिए शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग के वनस्पति विभाग स्नातकोत्तर के विद्यार्थियों ने विषाखापटनम (आंध्र प्रदेष) का शैक्षणिक भ्रमण किया। 
महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ आर.एन. सिंह एवं विभागाध्यक्ष डाॅ. रंजना श्रीवास्तव के मार्गदर्षन में यह भ्रमण आयोजित किया गया। प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह ने छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि इस प्रकार का आयोजन होने से छात्रों में वास्तविक ज्ञान को बोध होता है। छात्रों में आत्मविष्वास और सीखने की प्रवृति प्रबल होती है, शैक्षणिक भ्रमण षिक्षा की ही भाग है ऐसे आयोजन होते रहना चाहिए। 
वनस्पति शास्त्र विभाग के प्राध्यापक, डाॅ. के.आई. टोप्पो, डाॅ. जी.एस. ठाकुर, डाॅ. श्रीराम कुंजाम, एवं कु. दीपिका धु्रव पूरे शैक्षणिक भ्रमण में छात्रों के साथ उपस्थित थे, जिनके नेतृत्व में छात्रों ने आन्ध्र विष्वविद्यालय के वनस्पति विभाग के बाॅटनिकल म्यूजियम, हरबेरियम, बाॅटनिकल गार्डन के विभिन्न प्रजातियों, आर्किड, पाम, फर्न और अन्य दुलर्भ पौधों को देखा वहाॅं के प्रोफेसर डाॅ. जे. प्रकाष राव एवं उनके शोध छात्र ने म्यूजियम हरबेरियम व बाॅटनिकल गार्डन के पौधे की विस्तृत जानकारी दी। 
विशाखापटनम अपनी प्राकृतिक सौंदर्यता के लिए जाना जाता है जहाॅं पहाड़, समुद्र एवं पेड़ पौधे अपनी छटा बिखेरती है छात्रों ने विभिन्न समुद्रीय शैवाल का अध्ययन कर संग्रह किया साथ बोर्राकेव एवं अर्कूवेली मार्ग के पौधों की जैव विविधता को प्रत्यक्ष रूप से देखा इस बीच काफी एवं काली मिर्च प्लान्टेंषन देखने का भी अवसर प्राप्त हुआ। साथ ही रामकृष्ण समुद्रतट पर स्थित सबमरीन (पनडुब्बी) संग्रहालय देखना छात्रों के लिए कौतूहल से कम नही था। छात्रों ने बोर्राकेव से मिट्टी पानी, राॅक्स का भी संग्रह किया है, जिसका महाविद्यालय के प्रयोगषाला में परीक्षण किया जायेगा। 
इस शैक्षणिक भ्रमण में विभाग के प्राध्यापक प्रो. गायत्री पाण्डेय, डाॅ. सतीष सेन, डाॅ. विजय लक्ष्मी नायडू का विषेष सहयोग प्राप्त हुआ। 

विज्ञान महाविद्यालय दुर्ग के छात्रों ने किया शैक्षणिक भ्रमण Photos