Photo Gallery

Photo Gallery: साइंस कालेज, दुर्ग के मनोविज्ञान विभाग में डाॅ. प्रमोद गुप्ता का आमंत्रित व्याख्यान आयोजित परीक्षा के तनाव से कैसे निपटे

 

साइंस कालेज, दुर्ग के मनोविज्ञान विभाग में डाॅ. प्रमोद गुप्ता का आमंत्रित व्याख्यान आयोजित परीक्षा के तनाव से कैसे निपटे


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 16/02/2019
 

Story Details

प्रेस विज्ञप्ति 
साइंस कालेज, दुर्ग के मनोविज्ञान विभाग में डाॅ. प्रमोद गुप्ता का आमंत्रित व्याख्यान आयोजित 
परीक्षा के तनाव से कैसे निपटे   
शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग के मनोविज्ञान विभाग में परीक्षा के तनाव से कैसे निपटे इस विषय पर मनोविज्ञान विभाग द्वारा डाॅ. प्रमोद गुप्ता, मनोचिकित्सक एवं निदेषक सिम्हांस का व्याख्यान आयोजित किया गया। कार्यक्रम की आरंभ प्राचार्य डाॅ. एम.ए. सिद्दीकी के स्वागत भाषण के साथ हुआ। प्राचार्य ने अपने उद्बोधन में प्रकृति के तनाव को न्यूनतम करने की प्रवृत्ति का उदाहरण पृष्ठ तनाव के माध्यम से समझाया और कहा कि व्यक्ति के तनाव को भी इसी तरह कम किया जा सकता है, शून्य नही। छात्र-छात्राऐं भी इसी तरह से अपने तनाव को कम कर सकते है। कुछ तनाव अपरिहार्य होते है। छात्र-छात्राऐं तनाव को शून्य करने की चिंता न करें। 
मुख्य अतिथि डाॅ. प्रमोद गुप्ता ने बड़े ही रोचक एवं प्रभावषाली ढंग से अपनी बात रखी। डाॅ. गुप्ता ने कहा कि डर के आगे जीत है। अतः अपने भीतर से डर को दूर कर लक्ष्य की ओर बढ़े। लक्ष्य को केन्द्रित रख कर ही कार्य करें। परीक्षा के तनाव पर उन्होंने प्रकाष डालते हुए कहा कि तनाव उस वक्त होता है, जब पूर्व तैयारी नही होती और अपने भीतर पास या फेल का डर जाने अनजाने घर कर जाता है। उन्होंने पढ़ाई और परीक्षा पर बल देते हुए महत्वपूर्ण टिप्स भी छात्रों को प्रदान किया, उन्होंने लक्ष्य पर फोकस और ध्यान में एकाग्रता, सोच और भाषा, यादशास्त, प्रेरणा, भावना एवं बुध्दि को मुख्य बिंदु बताते हुए कहा यदि इस पर ध्यान देेंगे तो परीक्षा के समय तनाव की कोई गुंजाइष नही होगी आत्मविष्वास के साथ आगे बढ़िये परिणाम की चिंता मत करिये उन्होंने रनलाॅ नामक परीक्षा की तकनीकी पर चर्चा की। उन्होंने कहा पढ़िये, रेखांकित करिये नंबर डालें, सूचीबध्द करें और फिर विस्तार कर सब चीजों को लिखें। ऐसा करने से आपको खुद ब खुद सारी बातें याद हो जायेंगी और प्रभावषाली उत्तर आप दे सकेेंगे। उन्होंने कहा कि परीक्षा के समय अपनी आतंरिक शक्ति पर भरोसा रखें। खानपान पर ध्यान रखें साथ ही कुछ प्राणायाम भी करें। परीक्षा आपके लिए एक खेल बन जायेगा। कार्यक्रम का संचालन डाॅ. रचिता श्रीवास्तव, विभागाध्यक्ष मनोविज्ञान विभाग द्वारा किया गया। धन्यवाद ज्ञापन समाजषास्त्र की प्राध्यापक डाॅ. सुचित्रा शर्मा ने किया। डाॅ. प्रतिभा शर्मा ने अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ से किया। 
कार्यक्रम में स्नातक एवं स्नातकोत्तर कक्षा के छात्र-छात्राऐं उपस्थित थे। छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न प्रष्न पूछे गये। कार्यक्रम में डाॅ. सुचित्रा शर्मा, डाॅ. प्राची सिंह, डाॅ. शंकर निषाद, डाॅ. ज्योति धारकर, डाॅ. तरलोचन कौर, डाॅ. मीना मान, डाॅ. विजय लक्ष्मी नायडू, डाॅ. जनेन्द्र दीवान, डाॅ. दिलीप साहू आदि प्राध्यापक विषेष रूप से उपस्थित थे। 

साइंस कालेज, दुर्ग के मनोविज्ञान विभाग में डाॅ. प्रमोद गुप्ता का आमंत्रित व्याख्यान आयोजित परीक्षा के तनाव से कैसे निपटे Photos