Photo Gallery

Photo Gallery: साइंस कालेज, दुर्ग में वार्षिक स्नेह सम्मेलन आयोजित

 

साइंस कालेज, दुर्ग में वार्षिक स्नेह सम्मेलन आयोजित


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 30/01/2019
 

Story Details

साइंस कालेज, दुर्ग में वार्षिक स्नेह सम्मेलन आयोजित 
साइंस कालेज दुुर्ग की सभी आवष्यकताओं की पूर्ति राज्य सरकार करेंगी- रवीन्द्र चैबे 
साइंस कालेज दुुर्ग की सभी आवष्यकताओं की पूर्ति राज्य सरकार करेगी। छत्तीसगढ़ प्रदेष के एकमात्र एवं सर्वप्रथम नैक द्वारा मूल्यांकित ए प्लस ग्रेड प्राप्त महाविद्यालय में शैक्षणिक पदों, प्रयोगषालाओं के उन्नयन, सभागार का जीर्णोद्वार एवं अन्य सभी वांछित आवष्यकताओं की पूर्ति राज्य शासन करेगा। ये उद्गार छत्तीसगढ़ शासन के संसदीय कार्य, कृषि एवं जैव प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रवीन्द्र चैबे ने आज शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, एवं शासकीय आदर्श महाविद्यालय, दुर्ग के वार्षिक स्नेह सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर व्यक्त किये। साइंस कालेज दुर्ग के भूतपूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष श्री रवीन्द्र चैबे ने अपने छात्र जीवन के लम्हों का स्मरण करते हुए बड़ी संख्या में उपस्थित प्राध्यापकों, छात्र-छात्राओं एवं गणमान्य नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि गुरूजनों के प्रति सम्मान की भावना तथा स्वयं में अनुषासन ऐसे दो मूलमंत्र है, जिन पर अमल करते हुए जीवन में सफलता प्राप्त की जा सकती है। महाविद्यालय जीवन बहुत ही नाजुक मोड़ होता है, यदि विद्यार्थी में इस दौरान सही दिषा तय कर ली, तो उसका सम्पूर्ण जीवन कुषाल हो जाता है। श्री चैबे ने प्राध्यापकों को सलाह दी कि वे विद्यार्थियों से सीधा संवाद करते हुए उनके अंदर छुपी प्रतिभा को उभारने का कार्य करें। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए छत्तीसगढ़ शासन के उच्चशिक्षा, तकनीकी शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री उमेश पटेल ने अपने संबोधन में कहा कि उच्चशिक्षा विभाग द्वारा आगामी शैक्षणिक सत्र से प्रत्येक महाविद्यालय में विष्वविद्यालय से लिंक हेल्प डेस्क की स्थापना की जायेगी। श्री पटेल ने कहा कि प्रदेष में उच्चशिक्षा का सबसे महत्वपूर्ण घटक विद्यार्थी पर आज तक ध्यान केन्द्रित नही किया गया। वर्तमान छत्तीसगढ़ सरकार विद्यार्थियों के हित में तथा उनके सर्वागीण विकास हेतु अनेक संभव उपाय करेंगी। 
महाविद्यालय के भूतपूर्व छात्र एवं दुर्ग शहर के वर्तमान विधायक श्री अरूण वोरा ने वार्षिक स्नेह सम्मेलन में विषिष्ट अतिथि के रूप में अपने संबोधन में कहा कि यह महाविद्यालय उनकी कर्मभूमि रही है तथा छात्रसंघ अध्यक्ष द्वारा महाविद्यालय के विकास से संबंधित रखी गयी मांगों को वे मुख्यमंत्री तथा प्रदेष के उच्चषिक्षा मंत्री से चर्चा कर पूर्ण कराने का हर संभव प्रयास करेंगे। वार्षिक स्नेह सम्मेलन को साम्प्रदायिक सौहार्द्र का प्रतीक बताते हुए उन्हांेने इसे विद्यार्थियों के अंदर छुपी प्रतिभा के प्रदर्षन हेतु उचित मंच बताया। 
इससे पूर्व महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. एम. ए. सिद्दीकी ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए सत्र 2018-19 में महाविद्यालय में आयोजित विभिन्न गतिविधियों एवं उपलब्धियों का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया। डाॅ. सिद्दीकी ने आशा व्यक्त की कि महाविद्यालय आगामी वर्षों में भी शासन की मंषा के अनुरूप अनुशासन एवं गुणवत्ता युक्त षिक्षा प्रदान करने में हर संभव कदम उठायेगा।
महाविद्यालय छात्रंसघ के प्रभारी प्राध्यापक डाॅ. एस.एन.झा ने अपने संबोधन में अतिथियों का परिचय दिया तथा महाविद्यालय छात्रसंघ की ओर से विष्वास दिलाया कि छात्रहित में हर रचनात्मक गतिविधि में यह छात्रसंघ अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा। 
उद्घाटन सत्र का संचालन करते हुए महाविद्यालय के भूतपूर्व छात्र एवं समाजषास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ. राजेन्द्र चैबे ने जानकारी दी कि यह सुखद अवसर है कि महाविद्यालय के दो भूतपूर्व छात्र श्री रवीन्द्र चैबे एवं श्री अरूण वोरा एक साथ लोकप्रिय जनप्रतिनिधि के रूप में मंच पर आसीन है। अपने संबोधन में साइंस कालेज, दुर्ग की छात्रसंघ अध्यक्ष कु. पूजा ने महाविद्यालय से संबंधित मांगों में सभागार का जीर्णोद्वार, प्राध्यापकों के नये पद सृजन करने, ट्रांसफार्मर की स्थापना, कैंटीन का जीर्णोद्वार, मिनी स्टेडियम तथा जिम की स्थापना तथा नवनिर्मित बालक छात्रावास में विद्युत कनेक्षन तत्काल उपलब्ध कराये जाने का अतिथियों से आग्रह किया। 
सरस्वती वंदना एवं स्वागत गान के साथ आरंभ हुए उद्घाटन सत्र में अतिथियों का पुष्पगुच्छ से स्वागत करने वालों में प्राचार्य डाॅ. सिद्दीकी, छात्रसंघ प्रभारी डाॅ. एस.एन.झा, वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. मीता चक्रवर्ती साइंस कालेज, दुर्ग की छात्रसंघ अध्यक्ष कु. पूजा घोष, उपाध्यक्ष कु. प्रिया, सचिव, कु. प्रगति अग्रवाल, सहसचिव कु. देविका तथा शासकीय आदर्श महाविद्यालय दुर्ग के छात्रसंघ अध्यक्ष कु. तृष्णा, उपाध्यक्ष कु. पूजा देवांगन, सचिव, कु. कुसुम साहू, तथा सहसचिव कु. हीना मिश्रा एवं महाविद्यालय के रजिस्ट्रार श्री ए.के. साव, छात्रावास अधीक्षक श्री राधेलाल यादव, मुख्य लिपिक श्री संजय यादव एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी श्री ईष्वरी साहू शामिल थे। 
मंत्रीद्वय एवं दुर्ग शहर के विधायक श्री अरूण वोरा ने महाविद्यालय में सर्वाधिक अंक अर्जित करने वाले मुकेष कुमार, एमएससी भौतिकी को स्वर्गीय अनिल तामस्कर एवं पद्मावती तामस्कर स्मृति स्वर्ण पदक प्रदान किया। एम.ए. अर्थषास्त्र में सर्वाधिक अंक अर्जित करने हेतु स्वर्गीय प्रकाष चंद्र माहेष्वरी स्मृति पदक कु. नेमिन वर्मा को प्रदान किया गया। कला संकाय में सर्वाधिक अंक अर्जित करने हेतु स्वर्गीय निर्मलचंद्र पाठक स्मृति पुरस्कार डिगेष्वर साहू को मिला। विज्ञान संकाय में स्नातक स्तर पर सर्वाधिक अंक अर्जित करने हेतु स्वर्गीय शीला शर्मा स्मृति नकद पुरस्कार कु. प्रिया एम.एससी पूर्व रसायन शास्त्र को प्रदान किया गया। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय स्तर पर खेल, एनसीसी एवं एनएसएस, यूथ रेडक्रास, शोध आदि क्षेत्रों में विशेष उपलब्धि हासिल करने वाले विद्यार्थियों को भी स्मृति चिन्ह प्रदान कर अतिथियों ने सम्मानित किया। महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. एम.ए. सिद्दीकी ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान किये। कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन आदर्ष महाविद्यालय दुर्ग की छात्रसंघ अध्यक्ष कु. तृष्णा ने किया। 
उद्घाटन सत्र के पश्चात् आयोजित रंगारंग सांस्कृतिक समारोह का संचालन डाॅ. ज्योति धारकर ने किया। आज प्रस्तुत उल्लेखनीय सांस्कृतिक कार्यक्रम में गीत संगीत युक्त सारे गामा पा, युगल नृत्यों में गुलषन पटेल एवं तुलीना निषाद, राहुल कुमार एवं गोपी, देवराज एवं षिवानी तथा समूह नृत्य में डोमन एवं साथी, पेमेष्वरी एवं साथी मनीषा एवं साथी, निकिता एवं साथी, पुष्पेन्द्र एवं साथी, रोषन एवं साथी, यूनाइटेड एक्स तथा काम्पलेक्सन गु्रप द्वारा प्रस्तुत नृत्यों ने दर्शकों की खूब तालियां बटोरी। तरूण बंजारे एवं अर्पणा देवनाथ द्वारा प्रस्तुत एकल नृत्य तथा नाटक बेटी तुम वरदान हो। ने समूचे दर्षकों को झकझोर कर रख दिया। 
समारोह के अंत में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह मंे महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. एम.ए. सिद्दीकी ने वाद-विवाद प्रतियोगिता तात्कालिक भाषण प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता तथा प्रष्नमंच आदि साहित्यिक गतिविधियों के विजेताओं को पुरस्कृत किया। विभिन्न विधाओं मेंहदी, रंगोली, पेटिंग, व्यंजन, सलाद सज्जा, पोस्टर प्रतियोगिता, एनसीसी, एनएसएस एवं यूथरेडक्रास के सर्वश्रेष्ठ स्वयं सेवकों के साथ रक्तदान शिविर में सहभागिता करने वाले छात्र-छात्राओं को भी पुरस्कृत किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में कु. निषा सिंह एवं साथियों द्वारा प्रस्तुत भारतीय समूह गायन तथा लोक नृत्य प्रतियोगिता में संजय कुमार एवं साथियों द्वारा प्रस्तुत आदिवासी समूह नृत्य तथा नाटक में छबिलाल साहू एवं साथियों की प्रस्तुति तथा तेज देवांगन एवं साथियों द्वारा प्रस्तुत नाटक पढ़बो ल गढ़बो को भी पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर महाविद्यालय के भूतपूर्व प्राचार्य एवं प्राध्यापक डाॅ. ए.ए.खान, डाॅ. जे.पी. शर्मा, डाॅ. सुरेष चंद्र शर्मा, डाॅ. एस.के. विष्वकर्मा, डाॅ. पी.सी. पंडा, श्रीमती तामस्कर, श्री अनिल शर्मा, जामगांव कालेज के प्राचार्य डाॅ. के.वी. शर्मा, बोरी कालेज के प्राचार्य डाॅ. आनंद विष्वकर्मा, भूतपूर्व छात्र नेता अब्दुल गनी, राजेष यादव सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक, प्राध्यापकगण, कर्मचारीगण एवं छात्र-छात्राऐं उपस्थित थे।

साइंस कालेज, दुर्ग में वार्षिक स्नेह सम्मेलन आयोजित Photos