Photo Gallery

Photo Gallery: साइंस कालेज दुर्ग में 43 वर्षों पश्चात् मिलकर भावुक हुए भूतपूर्व छात्र साइंस कालेज दुर्ग हम सभी के लिए पवित्र तीर्थ के समान - भूतपूर्व छात्र

 

साइंस कालेज दुर्ग में 43 वर्षों पश्चात् मिलकर भावुक हुए भूतपूर्व छात्र साइंस कालेज दुर्ग हम सभी के लिए पवित्र तीर्थ के समान - भूतपूर्व छात्र


Venue : Govt. V.Y.T. PG Autonomous College, Durg
Date : 24/04/2018
 

Story Details

साइंस कालेज दुर्ग हम सभी के लिए पवित्र तीर्थ के समान है। आज यहां से अध्ययन प्राप्त विद्यार्थी देश विदेश के हर कोने में अपनी सेवाऐं देकर प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे है। ये उद्गार आज महाविद्यालय में 43 वर्षों के पश्चात् आपस में मिलते हुए 1976 बैच के भूतपूर्व विद्यार्थियों ने व्यक्त किये। महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. सुरेन्द्र कुमार राजपूत ने बताया कि बिना किसी आयोजन के आज एकाएक 1976 बैच के विद्यार्थी बड़ी संख्या में महाविद्यालय के प्राचार्य कक्ष में एकत्रित हुए तथा अपनी अविस्मरणीय यादों के साथ महाविद्यालय परिवार से मुलाकात की। भूतपूर्व विद्यार्थी महाविद्यालय की प्रगति एवं अधोसंरचना विकास से अत्यंत प्रभावित दिखें। डाॅ. राजपूत ने बताया कि 1976 बैच के भूतपूर्व विद्यार्थियों में से अधिकांश सेवा निवृत्त हो चुके है। परंतु महाविद्यालय भ्रमण के दौरान उनमें वही छात्र गुण एकाएक उभर आये। उल्लेखनीय है कि महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. एस.के. राजपूत भी तामस्कर महाविद्यालय के 1976 बैच के भूतपूर्व छात्र है। अत्यंत उल्लास पूर्ण वातावरण में इन भूतपूर्व छात्रों ने अपने समय के प्राध्यापकों एवं उनकी विशेषताओं को याद करते हुए अनेक अविस्मरणीय पल साझा कियें। इन भूतपूर्व छात्रों को प्राचार्य डाॅ. राजपूत के नेतृत्व में महाविद्यालय आईक्यूएसी की संयोजक डाॅ. जगजीत कौर सलूजा, यूजीसी प्रभारी डाॅ. अनुपमा अस्थाना, वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. अनिल कुमार एवं डाॅ. अजय सिंह ने विभिन्न स्नातक एवं स्नातकोत्तर विभागों का भ्रमण कराया। प्रत्येक विभाग की प्रगति एवं अकादमिक उपलब्धियों को देखकर सभी भूतपूर्व छात्र प्रसन्नचित दिखें। भूगर्भशास्त्र के सहायक प्राध्यापक डाॅ. प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि इन भूतपूर्व छात्रों में अनेक छात्र अन्य प्रदेशों से पधारे थे, तथा इनमें प्रमुख व्यवसायी, चिकित्सक तथा प्रतिष्ठित संस्थानों से उच्चाधिकारी शामिल थे। सन् 1958 में स्थापित साइंस कालेज, दुर्ग के 60 वर्ष पूर्ण होने पर भूतपूर्व विद्यार्थी के लिए एक सम्मेलन बुलाये जाने का सभी भूतपूर्व छात्रों ने प्राचार्य डाॅ. राजपूत से आग्रह किया इस पर अपनी स्वीकृति प्रदान करते हुए डाॅ. राजपूत ने बताया कि आगामी सितम्बर, अक्टूबर माह में तामस्कर महाविद्यालय अपनी स्थापना के 60 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में भूतपूर्व विद्यार्थियों का सम्मेलन आयोजित करेगा। अनेक भूतपूर्व विद्यार्थियों ने महाविद्यालय के विकास यात्रा में अपना तनमन धन से सहयोग देने का आश्वासन दिया। प्रमुख रूप से पधारे भूतपूर्व विद्यार्थी में श्री गौतम नाग, श्री बलदेव भाटिया, श्री अजयकांत भट्ट, श्री राजेश त्यागी, श्री दीपक खरे, श्री कपूर सिंह परिहार, श्री दीप्तमन दास गुप्ता, श्री कुलदीप सिंह छाबड़ा, श्री कैलाश प्रसाद सोनी, श्री मनोज अग्रवाल, श्री इकबाल ओबराॅय, श्री सुरेश आदि शामिल थे।