Photo Gallery

Photo Gallery: आई. क्यू एसी की बैठक में छात्रहित में अनेक निर्णय

 

आई. क्यू एसी की बैठक में छात्रहित में अनेक निर्णय


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 08/03/2020
 

Story Details

शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग (छ.ग.) में आयोजित आई.क्यू. एसी की बैठक में छात्रहित में अनेक निर्णय लिए गये । महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आर. एन. सिंह तथा आई.क्यू. एसी. की संयोजक डाॅ. पदमावती ने संयुक्त रूप से जानकारी दी कि अगामी शैक्षणिक सत्र से स्नातक स्तर पर द्वितीय एवं तृतीय वर्ष के एडमिशन सीधे आनलाइन पद्धती के आधार पर किये जायेगंे तथा विद्यार्थियों के प्रथम वर्ष के प्रवेश के आधार पर अगामी द्वितीय एवं तृतीय वर्ष में केवल प्रवेश का नवीनीकरण होगा । डाॅ. सिंह ने बताया कि महाविद्यालय में विद्यार्थियों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराने हेतु कैम्पस प्लेसमेंट के लिए विभिन्न कम्पनियों को आमंत्रित करने हेतु राष्ट्रीय स्तर के कैम्पस प्लेसमेंट अधिकारी के साथ सामजस्य स्थापित किया जा रहा है । इससे बड़़ी संख्या म विद्यार्थियों को रोजगार के अवसर प्राप्त होगे ।
    बैठक के आरंभ में उपस्थित सदस्यों को पौधे भेट करने के पश्चात महाविद्यालय की नैक समन्वयक  डाॅ. जगजीत कौर सलूजा ने महािवद्यालय द्वारा नैक मूल्यांकन के संबंध में की जा रही तैयारियों की जानकारी दी । डाॅ. सलूजा ने बताया कि सत्र 2019-20 में महाविद्यालय में लगभग सभी क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की है । प्राचार्य डाॅ. सिंह ने उपस्थित सदस्यों से महाविद्यालय की विकास यात्रा हेतु रचनात्मक सुझाव देने का आग्रह किया । आई. क्यू. एसी सदस्य डाॅ. प्रशांत श्रीवास्तव ने पावर पाइंट प्रस्तुतिकरण के माध्यम से महाविद्यालय की उपलब्धियों एवं गतिविधियों का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया । अपने रचनात्मक सुझावोें में  शंकराचार्य महाविद्यालय की प्राचार्य डाॅ. रक्षा सिंह ने प्राध्यापकों एवं आमंत्रित वक्ताओं के व्याख्यान यूट्यूब में अपलोड करने का सुझाव दिया जिससे महाविद्यालय के समय के पश्चात एवं बाहर भी विद्यार्थी इसका लाभ ले सके । रायपुर दूरदर्शन के मोहम्मद फारूख ने अपने सुझाव में महाविद्यालय में प्लेसमेंट की संख्या अधिक बढ़ाने हेतु प्रयास करने का आग्रह किया । भिलाई इंस्पात संयंत्र के सेवानिवृत्त ई. डी. श्री आर. के. शर्मा ने प्लेसमेंट में सफलता हेतु विद्यार्थियों के लिए मौक इंटरव्यू आयोजित करने तथा विद्यार्थी के परीक्षा परिणामों एवं उपस्थिति को पालकों तक भेजे जाने का सुझाव दिया । शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय की अग्रेजी की प्राध्यापक
डाॅ. अनिता शाहा ने अपने सुझाव में कहा कि महाविद्यालय की गतिविधियों को नैक मूल्यांकन के अनुसार संचालित करने का प्रयत्न करना चाहिए । जनभागिदारी समिति के सदस्य सुमित ताम्रकार ने विद्यार्थियों के लिए बैंक, रेल्वे, एल. आई. सी. आदि भर्ती हेतु कोचिंग क्लास की व्यवस्था किये जाने की वकालत की । अंग्रेजी के प्राध्यापक डाॅ. सोमाली गुप्ता ने स्नातकोत्तर विद्यार्थियों हेतु इंटरर्नशीप योजना आरंभ किये जाने का सुझाव दिया । माइक्रोबायोलाॅजी की डाॅ. प्रज्ञा कुलकर्णी ने इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों के साथ समाजस्य स्थापित करते हुये पाठ्यक्रम में बदलाव का सुझाव दिया । यूजीसी सेल की संयोजक डाॅ. अनुपमा अस्थाना ने स्नातकोत्तर विद्यार्थियों हेतु प्रोजेक्ट की महत्ता बताते हुये कहा कि इससे विद्यार्थी को विषय में नवीनतम ज्ञान के साथ साथ रोजगार प्राप्ति में सहायता मिलती है । महाविद्यालय के रजिस्ट्रार श्री आशुतोष साव ने विद्यार्थियों हेतु कम्प्यूटर प्रयोगशाला के उन्नयन की बात रखी । मुख्यलिपिक श्री संजय यादव ने विद्यार्थियों हेतु लायब्रेरी में प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित और अधिक पुस्तकों को मंगाने का आग्रह किया । बैठक के दौरान महाविद्यालय के क्रिड़ाअधिकारी अब्दुल महमूद ने महाविद्यालय में जिम स्थापित किये जाने का आग्रह किया । ग्रंथपाल श्री विनोद अहिरवार ने शोध पत्रों तथा पी. एच. डी. थिसिस में नकल की जांच हेतु साफ्टवेयर खरीदने का सुझाव दिया ।
    आई. क्यू. एसी के संयोजक डाॅ. पदमावती ने बैठक के अंत में धन्यवाद ज्ञापन किया । बैठक में महाविद्यालय आई. क्यू. एसी के सदस्य डाॅ. तरलोचन कौर संधू, डा. संजू सिन्हा, डाॅ. सतीश सेन आदि उपस्थित थे ।

आई. क्यू एसी की बैठक में छात्रहित में अनेक निर्णय Photos