Photo Gallery

Photo Gallery: भूगर्भषास्त्र विभाग में नेट/सेट परीक्षा हेतु विषय-विषेषज्ञों के आमंत्रित व्याख्यान आयोजित

 

भूगर्भषास्त्र विभाग में नेट/सेट परीक्षा हेतु विषय-विषेषज्ञों के आमंत्रित व्याख्यान आयोजित


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 06/03/2020
 

Story Details

शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग में भूगर्भषास्त्र विभाग में नेट/सेट परीक्षा में सफलता प्राप्त करने हेतु टिप्स देने विषय-विषेषज्ञों के आमंत्रित व्याख्यान आयोजित किए गए। यह जानकारी देते हुए भूगर्भषास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ. एस.डी. देषमुख तथा प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह ने संयुक्त रूप से बताया कि आगामी जून माह में आयोजित होने वाली नेट परीक्षा में सफलता प्राप्त करने हेतु विभिन्न टिप्स देने के लिए शासकीय विज्ञान महाविद्यालय, रायपुर के अतिथि सहायक प्राध्यापक डाॅ. जय सिंह तथा भारतीय खान ब्यूरो रायपुर के वरिष्ठ भूवैज्ञानिक श्री रूद्र कुमार के आमंत्रित व्याख्यान आयोजित किए गए।
    व्याख्यान के आरंभ में भूगर्भषास्त्र के डाॅ. एस.डी. देषमुख ने अपने स्वागत भाषण में दोनों आमंत्रित वक्ताओं का परिचय देते हुए कहा कि नेट/सेट परीक्षा कदापि कठिन नही है, केवल विद्यार्थियों को एकाग्रता एवं गहन अध्ययन प्रमुख आवष्यकता है। डाॅ. देषमुख ने कहा कि विद्यार्थियों के पाठ्यक्रम में समाहित माइनिंग संबंधी अधिनियम तथा अन्य आवष्यक नवीनतम जानकारी देने हेतु आईबीएम रायपुर के श्री रूद्र कुमार को आमंत्रित किया गया है। डाॅ. देषमुख ने उपस्थित विद्यार्थियों से आमंत्रित वक्ताओं के अनुभव का पूर्ण लाभ लेने का आग्रह किया। भूगर्भषास्त्र के सहायक प्राध्यापक डाॅ. प्रषांत श्रीवास्तव ने अपने संबोधन में नेट परीक्षा की महत्ता एवं माइनिंग के दौरान भूगर्भषास्त्री को ध्यान में रखने वाले अधिनियमों का उल्लेख करते हुए कहा कि उक्त दोनों आमंत्रित व्याख्यानों से विद्यार्थियों के पाठ्यक्रम का कुछ हिस्सा पूर्ण रूप से कवर हो जायेगा। डाॅ. श्रीवास्तव ने उक्त व्याख्यानों के आयोजन की अनुमति देने हेतु प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह का धन्यवाद किया।
    महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह ने भूगर्भषास्त्र विषय को रोजगार उन्मुखी बताते हुए कहा कि आमंत्रित व्याख्यान में आने वाले विषय-विषेषज्ञांे के ज्ञान तथा अनुभव से विद्यार्थी लाभांवित होते है। डाॅ. सिंह ने अन्य विभागों के विभागाध्यक्षों से इस प्रकार के छात्र उपयोगी व्याख्यान आयोजित करने की सलाह दी। प्रथम व्याख्यान में डाॅ. जय सिंह ने नेट/सेट परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रष्नों तथा कम समय में उन्हें उचित ढ़ंग से हल करने की प्रक्रिया का गहराई से विष्लेषण किया। डाॅ. जयसिंह ने विद्यार्थियों द्वारा पूछे गये प्रष्नों के गंभीरता से उत्तर दिया। नेट/सेट परीक्षा हेतु आयोजित इस व्याख्यान कीे भूगर्भषास्त्र के स्नातकोत्तर विद्यार्थियों ने अत्यंत प्रषंसा की। विद्यार्थियों ने अपने फीडबैक में बताया कि व्याख्यान से विषय से संबंधित उनकी अनेक जिज्ञासायेें शांत हो गयी। विद्यार्थियों ने प्राचार्य डाॅ. सिंह से भविष्य में भी इस प्रकार के ज्ञानवर्धक व्याख्यान आयोजित कराने का आग्रह किया।
द्वितीय व्याख्यान में भारतीय खान ब्यूरो के वरिष्ठ भूवैज्ञानिक एवं डाॅ. हरिसिंह गौर विष्वविद्यालय, सागर से एम.टेक की डिग्री प्राप्त श्री रूद्र कुमार ने अपने आमंत्रित व्याख्यान में माइनिंग प्लान से संबंधित अधिनियम 2017 की विस्तृत जानकारी उपस्थित प्रतिभागी विद्यार्थियों को दी। उन्होंने माइनिंग लीज लिए जाने, माइनिंग लेने के दौरान पर्यावरण संबंधी अधिनियमों की जानकारी भी उन्होंने रोचक तरीके से विद्यार्थियों को दी। श्री रूद्र कुमार के व्याख्यान को विद्यार्थियों ने अपने विषय हेतु अत्यंत लाभप्रद बताया। अंत में धन्यवाद ज्ञापन डाॅ. विकास स्वर्णकार ने किया। इस अवसर पर भूगर्भषास्त्र के समस्त छात्र-छात्राऐं एवं श्री दिनेष मिश्रा तथा श्री विजय यादव उपस्थित थे।

भूगर्भषास्त्र विभाग में नेट/सेट परीक्षा हेतु विषय-विषेषज्ञों के आमंत्रित व्याख्यान आयोजित Photos