Photo Gallery

Photo Gallery: वार्षिक क्रीडा समारोह का रंगारंग उद्घाटन षिक्षा के साथ संस्कार विद्यार्थियों की सफलता का मूलमंत्र - राजेष यादव

 

वार्षिक क्रीडा समारोह का रंगारंग उद्घाटन षिक्षा के साथ संस्कार विद्यार्थियों की सफलता का मूलमंत्र - राजेष यादव


Venue : Govt. V.Y.T. PG AUTONOMOUS COLLEGE, DURG
Date : 22/01/2020
 

Story Details

षिक्षा के साथ संस्कार विद्यार्थियों की सफलता का मूलमंत्र है। संस्कार युक्त विद्याार्थी जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफलता अर्जित कर सकता हैं। अपने गुरूओं का सम्मान तथा उनके द्वारा दी जाने वाली षिक्षा का विद्यार्थियों के जीवन में विषेष महत्व होना चाहिए। ये उद्गार दुर्ग नगर निगम के सभापति श्री राजेष यादव ने आज शासकीय विश्वनाथ यादव तामस्कर स्नातकोत्तर स्वशासी महाविद्यालय, दुर्ग में वार्षिक क्रीडा समारोह के उद्घाटन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किये। श्री यादव ने साईंस कालेज, दुर्ग में छात्रसंघ अध्यक्ष के पद पर अपने कार्यकाल का स्मरण करते हुए कहा कि वे सदैव नैतिकता तथा कड़ी मेहनत के पक्षधर रहे हैं। महाविद्यालय के खेल मैदान के समतलीकरण एवं फ्लड लाईट लगाने हेतु श्री राजेष यादव ने हर संभव मदद का आष्वासन देते हुए कहा कि महाविद्यालय के विद्यार्थियों की यह मांग शीघ्र पूर्ण करने का प्रयास करूंगा। उद्घाटन सत्र में नगर निगम, एम.आई.सी के मेंबर श्री मंजीत सिंह एवं श्री रमन भी उपस्थित थे। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आर.एन. सिंह ने खेलों को जीवन में आवष्यक बताते हुए विद्यार्थियों से आव्हान किया कि वे खेल भावना से खेलें, जीत एवं हार पर परेषान न होते हुए खेल में भाग लेना सर्वाधिक महत्वपूर्ण होता है। डाॅ. सिंह ने मुख्य अतिथि श्री राजेष यादव के साथ महाविद्यालय की ओर से विष्वविद्यालयीन एवं राज्य स्तरीय खेल स्पर्धाओं में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को ट्राफी प्रदान कर सम्मानित भी किया। इससे पूर्व कार्यक्रम का संचालन करते हुए डाॅ. ज्योति धारकर ने महाविद्यालय वार्षिक क्रीडा समारोह की महत्ता पर प्रकाष डाला, क्रीडा अधिकारी श्री अब्दुल महमूद ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर अर्जित की गयी उपलब्धियों का विस्तृत ब्यौरा प्रस्तुत किया। श्री महमूद ने महाविद्यालय के खेल मैदान का समतलीकरण तथा फ्लड लाईट लगाने की आवष्यकता पर बल दिया। 
महाविद्यालय क्रीडा समिति के संयोजक डाॅ. अभिनेष सुराना ने अपने संबोधन मंे कहा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन निवास करता है तथा खिलाड़ियों का यह दायित्व है, कि वे सदैव आपसी एकता एवं ईमानदारी के साथ किसी भी प्रतियोगिता में हिस्सा लें। वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. ए.के. खान ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि आपमें खेल भावना के साथ-साथ किसी प्रतियोगिता को जीतने का भी भाव होना चाहिए। खिलाड़ियों की यही सोच उन्हें जीवन में भी आने वाली विभिन्न कठिनाइयों को जीतने में सहयोग करती है। आज आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में 100, 200, 400 मीटर दौड़, गोला फेक, भाला फेक, लंबी कूद, ऊंची कंूद आदि में महाविद्यालय के छात्र खिलाड़ियों ने उत्कृष्ट प्रदर्षन कर मेडल एवं प्रमाण पत्र प्राप्त किये। लंबी कूद में छात्रों मंे षिवम, ज्योतिष एवं मनीष ने प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया। छात्राओं की गोला फेक में साधना प्रथम, धनेष्वरी द्वितीय तथा जैमनी बोरकर तृतीय रही। छात्रों की गोला फेक में राहुल तांड़ी प्रथम अखिलेद्र शर्मा द्वितीय तथा गेंदलाल तृतीय रहे। दौड़ प्रतियोगिता में 100 मीटर में यषवंत कुमार प्रथम, गोरेख द्वितीय तथा खिलेन्द्र कुमार तृतीय रहेें। छात्राओं की 100 मीटर दौड़ में प्रियंका प्रथम सोनी द्वितीय तथा धनेष्वरी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापक, कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में छात्र-छात्राऐं उपस्थित थे। 

वार्षिक क्रीडा समारोह का रंगारंग उद्घाटन षिक्षा के साथ संस्कार विद्यार्थियों की सफलता का मूलमंत्र - राजेष यादव Photos